Michaung Cyclone इन राज्यों में मचाएगा तबाही

Janhvi Roy

04 Dec 2023

चक्रवात अभी तटीय इलाकों में नहीं पहुंचा है, लेकिन इसका प्रकोप दिखने लगा है।

रविवार को तमिलनाडु और रायलसीमा में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश हुई।

केरल और तटीय आंध्र प्रदेश में भी अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश हुई।

चक्रवात बंगाल की खाड़ी में इस वक्त चेन्नई से 230 किलोमीटर पूर्व-दक्षिण-पूर्व में है।

यह पुडुचेरी के पूर्व में 250 किलोमीटर की सीमा में मौजूद है।

आंध्र प्रदेश तट से देखे जाने पर चक्रवात निलौर के दक्षिण-पूर्व में 350 किलोमीटर की दूरी पर है।

यह समय-समय पर वायुमंडल के ऊपरी स्तरों को पार करता है और जमीनी स्तर पर निचले दबाव, हवा की बढ़ती गति और नमी का निर्माण करता है।

केंद्र सरकार की तूफान पर नजर बनी हुई है।

चक्रवात के कारण भारी बारिश और तूफानी हवाओं से जनजीवन प्रभावित होने की आशंका है।

राज्य सरकारों ने चक्रवात से निपटने के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं।

लोगों को चक्रवात की चेतावनी के बाद सुरक्षित स्थानों पर जाने की सलाह दी गई है।