जूनियर महमूद की मरने से पहले की आखिरी इच्छा ये थी, बोले- अगर मैं मर जाऊं तो…

60 और 70 के दशक में प्रमुख फिल्म अभिनेता जूनियर महमूद ने कैंसर के साथ बड़ी संघर्ष की थी और आज उनका निधन हो गया है। उनकी मृत्यु से उनके प्रशंसक और बॉलीवुड इंडस्ट्री में दुखी हैं। हाल ही में जूनियर महमूद की स्वास्थ्य स्थिति बहुत खराब थी, इसकी खबर सामने आई थी और उनके प्रशंसक उनके लिए दुआएं मांग रहे थे, लेकिन आज उन्होंने हमेशा के लिए इस दुनिया को अलविदा कह दिया। जूनियर महमूद ने अपने आखिरी दिनों में एक आखिरी इच्छा जताई, जिसे सुनकर आपकी आंखों में आंसू आ सकते हैं।

जूनियर महमूद की आखिरी इच्छा क्या थी?

जूनियर महमूद को स्टेज 4 के पेट कैंसर से संघर्ष करना पड़ा और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनके अस्पताल में रहते समय, उन्होंने अपनी आखिरी इच्छा जताई। वास्तव में, उन्हें बॉलीवुड सुपरस्टार जीतेंद्र से मिलना था। सचिन पिलगांवकर की मदद से, उनकी आखिरी इच्छा पूरी हो गई। जूनियर महमूद की मौत से कुछ दिन पहले, जीतेंद्र ने उनसे मिलने के लिए अस्पताल जाने का निर्णय लिया था।

इस बीच, जूनियर महमूद की हालत को देखकर जीतेंद्र भी बहुत भावुक हो गए और उनकी आंखों से आंसू बहने लगे। अस्पताल में, जूनियर महमूद से मुलाकात करते हुए, जीतेंद्र की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं। इन तस्वीरों में, जीतेंद्र के साथ जॉनी लीवर भी अस्पताल में जूनियर महमूद की देखभाल करते नजर आ रहे हैं। ये तस्वीरें फैन्स को काफी भावनात्मक कर दी हैं।

जूनियर महमूद ने एक और अंतिम इच्छा व्यक्त की

इसके अलावा जूनियर महमूद ने एक और इच्छा जाहिर की. वह चाहते थे कि जब वह इस दुनिया में न रहें तो दुनिया उन्हें एक बुरे इंसान के रूप में नहीं बल्कि एक अच्छे इंसान के रूप में याद रखे। एक्टर ने अपनी आखिरी इच्छा जाहिर की. उन्होंने कहा, ‘मैं एक साधारण आदमी हूं, मैं चाहता हूं कि जब मैं मरूं तो दुनिया कहे कि वह एक अच्छा इंसान था।

जूनियर महमूद का करियर

जूनियर महमूद ने ‘बॉम्बे टू गोवा’, ‘ब्रह्मचारी’, ‘गुरु और चेला’ जैसी मूवीज़ में काम करके बड़ी पहचान प्राप्त की। उन्होंने अपने करियर में 250 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। जूनियर महमूद ने देश-विदेश में कई स्टेज शो भी किए। उन्हें उस दौर का दिग्गज अभिनेता माना जाता है, जिन्होंने कई लोगों का दिल जीता।

यह भी पढ़े:

Leave a Comment