नौकरी लगाने के नाम पर नेटवर्किंग कंपनी ने ठगा, रोजगार के लिए से धनबाद पहुंची थी युवकों का ग्रुप

धनबाद: एक मामले में यह सामने आया है कि जिले में बेरोजगार युवाओं को नौकरी के नाम पर ठगा जा रहा है। युवाओं ने इस मामले में पुलिस को शिकायत दर्ज की है। इसका मतलब है कि लोगों ने नेटवर्किंग मार्केटिंग के नाम पर उन्हें जल्दी अमीर बनाने का वादा किया और अब वे इसके लिए नए तरीके अपना रहे हैं।

इस नए तरीके में, ठग युवाओं को पहले ही आकर्षक सैलरी पैकेज का वादा किया जाता है। लेकिन बदले में, जब नौकरी मिलने की बारी आती है, तो उन्हें नेटवर्किंग मार्केटिंग करने के लिए मजबूर किया जाता है और इसके लिए बड़ी रकम भी वसूली जाती है।

धनबाद में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां युवाओं को नौकरी दिलाने का आश्वासन दिया गया। उनसे नौकरी पाने के नाम पर बड़ी राशि भी वसूल ली गई, लेकिन जब वे नौकरी करने पहुंचे तो उन्हें नेटवर्किंग मार्केटिंग के तहत लोगों को जोड़ने के लिए कहा जाने लगा। इस काम करते समय उन्हें खाना खाने के लिए भी बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ता था। इसके बाद युवकों ने ठगी के मामले की शिकायत पुलिस में की।

बोकारो में विकास का लगेगा पंख, टेक्निकल हब के रूप में होगा विकशित

जॉइनिंग को लिए गए 45 हजार रुपए : इस घटना में 7 लड़के शिकायतकर्ता हैं, जो उत्तर प्रदेश में रहते हैं। उन्होंने गोविंदपुर थाने में नेटवर्किंग कंपनी के कर्मचारियों के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। पीड़ित युवकों ने बताया कि उन्हें 15,000 से 18,000 रुपये तक की सैलरी का वादा किया गया था।

साथ ही, उनसे 45,000 रुपये जॉइनिंग फीस भी ली गई थी। लेकिन जब उन्होंने वहां पहुंचा तो पता चला कि यह कोई नौकरी नहीं है, बल्कि नेटवर्किंग कंपनी के कर्मचारियों को जोड़ने का काम है। जब हमने अपने पैसे की मांग की, तो उन्होंने हमें 15 जुलाई तक देने का आश्वासन दिया, लेकिन उसके बाद से नेटवर्किंग कंपनी के कर्मचारियों का कोई पता नहीं चल रहा है। पीड़ित युवाओं ने पुलिस से कार्रवाई की मांग की है।

2 thoughts on “नौकरी लगाने के नाम पर नेटवर्किंग कंपनी ने ठगा, रोजगार के लिए से धनबाद पहुंची थी युवकों का ग्रुप”

Leave a Comment