भारत के दूसरे कुंबले के साथ बेमानी कर रहे थे अगरकर, अब विजय हज़ारे में 38 ओवर में 14 विकेट लेकर उड़ाई सबकी नींद

Ajit Agarkar: भारतीय क्रिकेट टीम में हाल ही में कुछ बड़े बदलाव हुए हैं और इन बदलावों का श्रेय चीफ सिलेक्टर अजीत अगरकर (Ajit Agarkar) को जाता है, जिन्होंने हाल ही में इस पद की जिम्मेदारी संभाली है। उन्होंने कई खिलाड़ियों के साथ न्यायपूर्वक बदलाव किए हैं। आज हम उनमें से एक खिलाड़ी के बारे में बता रहे हैं, जिसकी क्षमता भारत के महान स्पिनर अनिल कुंबले (Anil Kumble) के जैसी है।

हालांकि, इसके बावजूद, इसे टीम से बाहर रखा जा रहा है। इस खिलाड़ी ने हाल ही में विजय हजारे ट्रॉफी में अपने शानदार प्रदर्शन से सभी को हैरान कर दिया है। चलिए, इस खिलाड़ी के बारे में और जानते हैं, जिसके साथ अजीत अगरकर ने लगातार न्यायपूर्वक काम किया है।

खिलाड़ी के साथ लगातार नाइंसाफी कर रहे हैं Ajit Agarkar!

वास्तविकता में, हम जिस खिलाड़ी की चर्चा कर रहे हैं, वह कोई अन्य नहीं है बल्कि भारत के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर में से एक, वरुण चक्रवर्ती हैं। उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी में तमिलनाडु की प्रतिष्ठा बढ़ाते हुए कुशल गेंदबाजी की है। इस कारण सभी जगह उनकी बहुत बातें हो रही हैं। वरुण ने पहले भी इस तरह की शानदार गेंदबाजी की है, और उन्होंने कई बार इसे साबित किया है, लेकिन अजीत अगरकर ने उन्हें टीम में कोई मौका नहीं दिया है।

विजय हज़ारे ट्रॉफी में वरुण चक्रवर्ती का प्रदर्शन

वरुण चक्रवर्ती ने विजय हजारे ट्रॉफी में तमिलनाडु की ओर से कुल 6 मैचों में खेले हैं, और इनमें उन्होंने 14 विकेट लिए हैं। इस अवधि में वरुण ने केवल 38 ओवरों में गेंदबाजी की है। उनके इस प्रदर्शन की खास बात उनका एवरेज है, जो करीब 10 है। इस टूर्नामेंट में वरुण चक्रवर्ती का सबसे अच्छा बोलिंग फिगर 9 रन देकर पांच विकेट रहा है, जो उन्होंने नागालैंड के खिलाफ हासिल किया था।

इस साल खेला था वरुण चक्रवर्ती ने अपना अंतिम मैच

वरुण चक्रवर्ती ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय मैच साल 2021 में श्रीलंका के खिलाफ खेला था, और उन्होंने साल 2021 टी20 विश्व कप के दौरान भी अपना आखिरी मैच खेला था, जो स्कॉटलैंड के खिलाफ था। इसके बाद से वह टीम से लगातार बाहर रह रहे हैं। उन्हें टीम से बाहर निकालने का कारण उनके अच्छे खेल की कमी रही थी।

वरुण चक्रवर्ती ने भारत की ओर से कुल 6 टी20 मैच खेले थे, जिसमें उन्होंने सिर्फ 2 विकेट लिए थे। इसके कारण उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया।

यह भी पढ़े:


Leave a Comment